दूरदर्शन पर रामायण, महाभारत ही नहीं पढाई का भी इंतजाम हो गया है, रेडियो पर भी लगेंगी क्लास, यहां है सारी डिटेल

0
134 views

लॉक डाउन के दौर में अलग अलग सरकारी संस्थानों के साथ मिलकर दूरदर्शन और आकाशवाणी देश भर में स्थित अपने क्षेत्रीय चैनलों के माध्यम से टीवी, रेडियो और यूट्यूब पर वर्चुअल कक्षाओं और अन्य शैक्षणिक सामग्रियों का प्रसारण कर रहे हैं।

स्कूल बंद होने की स्थिति में ये वर्चुअल कक्षाएं लाखों विद्यार्थियों विशेषकर 10वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को उनकी बोर्ड और कॉम्पटेटिव परीक्षाओं की तैयारियों में खासी मददगार साबित हो रही हैं।

डीडी और एआईआर के माध्यम से वर्चुअल पढ़ाई में प्राथमिक, जूनियर और हाईस्कूल स्तर के विद्यार्थियों के लिए पाठ्यक्रम आधारित कक्षाएं शामिल हैं। कुछ राज्यों में माध्यमिक विद्यालय लीविंग सर्टिफिकेट विषय और 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए मॉडल प्रश्न पत्र भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। इनमें से ज्यादातर कक्षाओं से विद्यार्थियों को अपनी इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं की तैयारियों में भी सहायता मिल रही है।

पाठ्यक्रम से जुड़ी सामग्री के अलावा पढ़ाई को दिलचस्प बनाने के लिए कुछ राज्यों में वर्चुअल कक्षाओं में प्रतिष्ठित शख्सियतों द्वारा कहानी सुनाए जाने और प्रश्नोत्तरी कार्यक्रमों (क्विज शो) को भी शामिल किया गया है।एं

विद्यार्थियों के भीतर घर में रहते हुए अनुशासन की भावना विकसित करने के उद्देश्य से ज्यादातर कक्षाएं जल्द सुबह शुरू हो जाती हैं और कुछ दोपहर में फिर से आयोजित की जाती हैं।

दूरदर्शन

कर्नाटक, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, केरल, गुजरात, जम्मू और कश्मीर ऐसे केन्द्र हैं, जो पहले से वर्चुअल कक्षाओं का प्रसारण कर रहे हैं।

आकाशवाणी

वर्चुअल कक्षाओं का प्रसारण करने वाले केन्द्रों में विजयवाड़ा, हैदराबाद, बंगलुरू, तिरुचिरापल्ली, कोयम्बटूर, पुडुचेरी, मदुरई, त्रिवेंद्रम, तिरुनेलवेली, पणजी, जलगांव, रत्नागिरी, सांगली, परभनी, औरंगाबाद, पुणे, नागपुर, मुंबई, गंगटोक, गुवाहाटी, बीकानेर, उदयपुर, जोधपुर, जयपुर केन्द्र शामिल हैं।

भोपाल, चेन्नई, कोझिकोड, त्रिशूर केन्द्रों से शैक्षणिक सामग्री का प्रसारण किया जा रहा है।

डीडी चैनलों पर प्रतिदिन औसतन 2.5 घंटे शैक्षणिक सामग्री का प्रसारण किया जा रहा है और किसी भी आकाशवाणी चैनल पर प्रतिदिन 30 मिनट तक शैक्षणिक सामग्री प्रसारित की जा रही है।

पूरे डीडी नेटवर्क पर प्रतिदिन कुल 17 घंटे और आकाशवाणी नेटवर्क पर प्रतिदिन 11 घंटे सामग्री प्रसारित हो रही है।

The short URL of the present article is: https://www.sachjano.com/xmBa7